अस्थमा के लिए घरेलू नुस्खे

अस्थमा के लिए घरेलू नुस्खे

अस्थमा

अस्थमा जिसे दमा भी कहते है, यह बीमारी हर साल करोडो लोगों  को अपना शिकार बनाती है, अगर हम अकेले भारत का ही आकड़ा ले तो भारत में हर साल एक करोड़ से अधिक लोग अस्थमा से पीड़ित पाए जाते है। WHO की एक रिपोर्ट के अनुसार अस्थमा ने दुनिया में 26 करोड़ से अधिक लोगों को अपना शिकार बनाया और 4.5 लाख लोगों की मौत का कारण बना। लोग अकसर अस्थमा को गंभीरता से नहीं लेते, पर यह साफ़ है की अस्थमा उन गंभीर बीमारियों में से एक है जो मौत का कारण भी बन सकती है। यह बीमारी अधिकतर बच्चों को अपना शिकार बनाती है।

 

अस्थमा क्या है?

अस्थमा एक फेफड़ों की बीमारी है, जिसमें श्वसन नाल (एयर पाइप) का रास्ता  सिकुड़ता जाता है, अस्थमा फेफड़ों में सूजन और फेफड़ों में मकस के अधिक उत्पन्न होने से होता है। अस्थमा में सांस लेने में गंभीर समस्याएं होती है, अस्थमा से ग्रसित व्यक्ति निम्न लक्षण महसूस करता है-

  • सांस फूलना
  • सांस अटकना
  • सीने में जलन और दर्द उठना
  • सीने में से साँस लेते वक़्त सिटी की आवाज उठना
  • तेज तेज साँस उठना
  • मुंह से  साँस लेना
  • खासी
  • रात में सुखी खासी
  • रेस्पिरेटरी इन्फेक्शन
  • साँस लेते समय गले व पसलियों की खाल अंदर की ओर जाना

 

अस्थमा होने के क्या कारण है?

  • परिवार का अस्थमा होने का इतिहास
  • नाक में एलर्जी (एक्जिमा)
  • प्रदूषण और बुरा पर्यावरण वातावरण
  • ओबेसिटी और मोटापा
  • धूल और केमिकल में काम
  • जन्म के समय कम वजन
  • श्वसन तंत्र में इन्फेक्शन
  • धूम्रपान और तंबाकू का सेवन

 

अस्थमा हमें-

  • थकावट
  • लगातार सीने में दर्द
  • निरंतर साँस का फूलना
  • श्वसन तंत्र का फेलियर
  • निमोनिया
  • श्वसन नाल में मकस के कारण मार्ग में रुकावट

 

क्या करें  और क्या न करें  जब अस्थमा हो-

  • धूम्रपान न करें 
  • अखरोट, मूंगफली इत्यादि का सेवन न करें 
  • अंडों, गेहूँ, सोया इत्यादि का सेवन न करें
  • भोजन अत्यधिक न करें 
  • मसालेदार भोजन न करें 
  • मदिरा सेवन बंद करें 
  • व्यायाम रोजाना करें 
  • अनुलोम-विलोम करें 
  • अच्छी डाइट ले
  • अच्छी नींद ले

 

अस्थमा के लिए घरेलू नुस्खे (होम रेमेडी)-

निचे दिए गए किसी न किसी नुस्खे को अपनाये और अस्थमा की समस्या को दूर करें -

पहली होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- यष्टि मधु की सुखी जड़े, एक गिलास पानी, और आधा चम्मच घी

स्टेप १- यष्टि मधु की जड़ को तोड़कर पीसकर पाउडर बनाले

स्टेप २- यष्टि मधु की जड़ के पाउडर को पानी में मिलाये और पांच मिनट तक गर्म करें 

स्टेप ३- उस पानी को छान ले और उसमें घी अच्छी तरह मिला ले

निर्देश- एक गिलास इस मिश्रण का रोजाना तीन दिन तक पिए, हर एक घुट पीने के बाद तीन मिनट रुके और फिर पिए।

 

दूसरी होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- 6 लॉन्ग के बालियाँ, एक कप पानी, और एक चम्मच सहद

स्टेप १- पानी को लॉन्ग की बलियों के साथ तब तक गर्म करें जब तक वह जल आधा हो जाये

स्टेप २-  पानी को छान ले और उसमें सहद को अच्छी तरह मिला ले

निर्देश- इस मिश्रण का एक चम्मच रोजाना दिन में तीन बार ले।

 

तीसरी होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- एक चम्मच अजवाइन और दो गिलास पानी

निर्देश- अजवाइन को पानी के साथ गर्म करें  व उसकी भाप को लम्बी सांसो से अंदर ले।

 

चौथी होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- लॉन्ग की तीन बालियाँ, और एक गिलास दूध

निर्देश- दूध को लॉन्ग के साथ गर्म करें और ठंडा कर रोजाना पिए।

 

पाँचवीं होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- सरसो का तेल और कपूर

निर्देश- तीन चम्मच सरसो का तेल ले और कपूर के साथ गर्म कर सीने तथा ऊपरी पीठ की मालिश करें।

 

छटी होम रेमेडी अस्थमा को दूर करने के लिए-

सामग्री- आधा ग्लास अनार का जूस, आधा गिलास अनार का जूस और एक चम्मच सहद

निर्देश- सभी उत्पादों को आपस में अच्छी तरह मिला ले और रोजाना दिन में एक चम्मच तीन बार ले।

Video

Our Products

Home Remedies

पाचन तंत्र मज़बूत करने के लिए Home remedy For Digestion system : Sanyasi Ayurveda