मल में खून आने के घरेलू उपाय

मल में रक्त: कारण, सुझाव और घरेलू उपचार

 

मल में रक्त, जिसे मलाशय से रक्तस्राव भी कहा जाता है, एक गंभीर बीमारी है जिसका सामना कोई भी व्यक्ति कर सकता है। मलाशय से रक्तस्राव विभिन्न कारणों से हो सकता है जिसमें बवासीर, फिशर, आंत्र रोग, अल्सर आदि शामिल हैं। मल में खून का दाग मल में रक्त के सामान्य लक्षण हैं। पाचन तंत्र में रक्तस्राव के कारण मलाशय से रक्तस्राव या मल में रक्त होता है। मल में रक्त बवासीर, एनीमिया, निम्न रक्तचाप आदि सहित गंभीर बीमारियों का संकेत हो सकता है। मलाशय से रक्तस्राव की समस्या को सरल युक्तियों और घरेलू उपचारों से ठीक किया जा सकता है जो नीचे पैराग्राफ में बताए गए हैं।

मलाशय से रक्तस्राव के लक्षण क्या हैं?

रेक्टल ब्लीडिंग से जुड़े लक्षण नीचे बताए गए हैं-

  • लाल या लाल रंग का मल
  • मल में स्पष्ट रूप से दिखाई देने वाला लाल रक्त
  • कूल्हों की सफाई करते समय लाल रक्त दिखाई देना
  • कपड़ों में खून के धब्बे
  • सूजन और जलन

 

मल में रक्त का क्या कारण है?

मल में खून आने के प्रमुख कारणों का उल्लेख नीचे किया गया है-

  • बवासीर (बवासीर)
  • गुदा विदर
  • आंत्र रोग
  • अल्सर
  • कोलोरेक्टल कैंसर

 

मल में रक्त की जटिलताएं क्या हैं?

मल में रक्त से जुड़ी जटिलताएं नीचे बताई गई हैं-

  • रक्त की उच्च हानि
  • खून की कमी
  • झटका
  • पेट का कैंसर
  • कम रक्त दबाव
  • बवासीर

 

मल में रक्त के लिए क्या करें और क्या न करें

घर पर मल में खून का इलाज करने के लिए नीचे बताए गए सुझावों का पालन करें-

  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
  • नियमित स्नान करें
  • शराब के सेवन से बचें
  • प्रभावित जगह पर आइस पैक लगाने से दर्द और सूजन को कम करने में मदद मिलती है
  • ठंडे पानी से नहाएं
  • शौचालय का उपयोग करने के बाद अपने शरीर को साफ करें
  • लौकी और खीरा जैसे फाइबर युक्त भोजन का सेवन करें
  • केले जैसे फलों का सेवन करें
  • शौचालय में ज्यादा समय बिताने से बचें
  • पौष्टिक भोजन खाएं
  • मुश्किल से पचने वाले भोजन से बचें

 

मल में खून आने के घरेलू उपाय

घर पर मल में खून का इलाज करने के लिए नीचे बताए गए घरेलू उपचारों का पालन करें-

 

मल में खून आने के घरेलू उपाय

सामग्री: हल्दी और दूध

स्टेप 1: एक गिलास दूध लें और उसमें एक बड़ा चम्मच ऑर्गेनिक हल्दी पाउडर मिलाएं।

स्टेप 2: दूध को कुछ मिनट तक अच्छी तरह उबाल लें।

निर्देश: इस दूध को नियमित रूप से दिन में एक बार रात को सोने से पहले पिएं। आंतरिक संक्रमण को ठीक करने के लिए अपनाएं यह घरेलू उपाय।

 

मल में खून आने का घरेलू उपाय:

सामग्री: किशमिश और एक गिलास दूध

स्टेप 1: 10 ग्राम किशमिश लें और उन्हें रात भर के लिए पानी में डाल दें

स्टेप 2: किशमिश से बीज निकाल कर दूध में डाल दें।

स्टेप 3: दूध को किशमिश के साथ उबालें

निर्देश: दूध को किशमिश के साथ रोज पिएं। किशमिश एक प्राकृतिक मल सॉफ़्नर है; नरम मल आसानी से बाहर की ओर चला जाता है और मल में रक्त कम हो जाता है।

 

मल में खून आने का घरेलू उपाय:

सामग्री: मुलेठी चूर्ण, गुड़ और एक गिलास पानी

विधि: एक गिलास पानी लें और उसमें एक चम्मच मुलेठी पाउडर और एक चम्मच गुड़ मिलाएं।

निर्देश: इस काढ़े को रोजाना रात में तब तक पियें जब तक मलाशय से खून आना पूरी तरह से ठीक न हो जाए।

 

मल में खून आने का सातवां घरेलू उपाय:

सामग्री: सौंफ और एक गिलास पानी

स्टेप 1: सौंफ को भूनकर पाउडर बनने तक पीस लें।

स्टेप 2: एक चम्मच सौंफ के बीज का पाउडर लें और इसे गुनगुने पानी में मिला लें।

निर्देश: इस मिश्रण को रोजाना रात को सोने से पहले पिएं। सौंफ पाचन तंत्र को मजबूत करती है और मल में खून की समस्या को कम करने में मदद करती है।

 

मल में खून आने का घरेलू उपाय:

सामग्री: धनिया बीज और छाछ का गिलास

स्टेप 1: 3 बड़े चम्मच धनिया के बीज को एक कप पानी में रात के लिए भिगो दें।

स्टेप 2: एक पारंपरिक पेस्ट मेकर का उपयोग करके भीगे हुए धनिये के बीज का एक अच्छा पेस्ट बनाएं, पेस्ट को एक गिलास छाछ में मिलाएं।

निर्देश: मलाशय से रक्तस्राव की आवृत्ति को कम करने के लिए इस मिश्रण को नियमित रूप से पियें।

 

दस्त या मल में खून आने का घरेलू उपाय:

सामग्री: शहद और करी पत्ता

स्टेप 1: करी के 20 पत्ते लें और करी पत्तों का दरदरा पेस्ट बना लें।

स्टेप 2: एक चम्मच शहद लें और उसमें करी पत्ते का पेस्ट मिलाएं।

निर्देश : शहद और करी पत्ते के इस मिश्रण को दिन में दो बार नियमित रूप से सेवन करने से मलाशय से खून आना बंद हो जाता है।

 

मल में खून आने का घरेलू उपाय:

सामग्री: केला और दही

निर्देश: केले को मैश करके एक कटोरी दही में अच्छी तरह मिला लें और दिन में कई बार इसका सेवन करें।

Our Products

Home Remedies

क्या सही क्या गलत